GOMAY DANTMANJAN

सुबह से लेकर शाम तक जितना भी पदार्थ का हमलोग उपयोग करते हैं जिसमे
रासायनिक चीज़ का मिश्रण मामूली है! तो उसी प्रकार आज हम आपको एक
वैदिक गोऊ आधारित दंतमंजन की बात करने जा रहे हैं. ये रसायन मुक्त दंतमंजन है!

उपयोग सामग्री
१.गोमय भस्म
२.बबूल की छाल का बुरादा
३. अपामार्ग की बुरादा अथवा राख
४. मंजिष्ठा
५.मुलेठी
६.लोंग
७.नीम पत्ते का पाउडर
८.हल्दी
९.सेंधा नमक
१०.अदरक
११.कालीमिर्च
१२.दालचीनी
१३.कपूर
१४. सफेद कत्था

सभी सामग्री को मिलाकर अच्छे २ से 3 दिन कांच के डिब्बे मे रख दें !
फिर इसका इस्तेमाल करे!
दंतमंजन से होने वाले फ़ायदा
१.दांत को साफ और कीटाणु मुक्त रखता है!
२.मुंह का दुर्गन्ध दूर करता है!
३.पीप निकलना, दांतों में कीड़े, मसूड़ों का फूलना
४.दांतों का दर्द करना
५. पायरिया तथा मुख के छाले जैसी बीमारियां दूर होती है !

इसका उत्तम लाभ लेने के लिए सुबह-शाम दो बार दंतमंजन अवश्य करें!
ये दंतमंजन हम आपसबो तक पहुँचाना चाहते है,
जिन्हें भी चाहिए हमसे संपर्क कर सकते हैं!

whatsapp:+917008376537
 Shubham Shaw
Shubham Shaw

hi! I am Shubham Shaw, A passionate social activist. Love to evaluate the nature & help people with natural ingredients.

             

3 thoughts on “GOMAY DANTMANJAN

Leave a Reply

Your email address will not be published.